Contact Information

Logix Technova B-511
Sector-132, Noida

We Are Available 24/ 7. Call Now.

New Delhi: लोकप्रिय जोड़ी साजिद-वाजिद के संगीत निर्देशक साजिद खान ने अपने दि’वंगत भाई का नाम वाजिद अपने सरनेम के साथ जोड़ लिया है। भाई वाजिद खान के नि’धन के बाद साजिद ने भाई के नाम को हमेशा के लिए अपने नाम के साथ जोड़ लिया है। वाजिद खान का नि’धन जून 2020 में COVID-19 की वजह से हुआ है।

इस बात की जानकारी खुद साजिद खान ने दी है, कि अब से वह साजिद खान नहीं बल्कि साजिद वाजिद के नाम से जाने जाएंगे। अब जिंदगी भर उनका यही नाम रहेगा। उनका कहना है कि मैंने वाजिद को अपने सरनेम की तरह अडॉप्ट कर लिया हूं। क्या हुआ अगर वो शारीरिक रूप से हमारे पास नहीं है तो लेकिन मैं हमेशा उसकी उपस्थिति महसूस करता हूं। उन्होंने कहा कि अगर वाजिद की मौजूदगी उनके साथ नहीं होती तो वह संगीत की रचना नहीं कर पाते जो वह हाल में कर रहे हैं।

साजिद ने कहा कि वाजिद के साथ उनका रिश्ता इतना मजबूत था कि वह अपने आखिरी दिनों में हर किसी की सलाह इनकार करते हुए पीपीई किट पहनकर आईसीयू में अपने भाई से मिलने गए थे। भाई की कमी को कभी पूरा नहीं किया जा सकेगा। दरअसल, साजिद खान अपने भाई वाजिद से बहुत प्यार करते थे, वो उनके बेहद करीब भी थे। उनके खाली जगह को भर पाना बेहद मुश्किल होगा। उन्होंने मेरा मुश्किल दौर देखा है, वो हमेशा मेरे साथ थे। आज मैं पहले से ज्यादा आत्मविश्वास से भरा हुआ महसूस कर रहा हूं।

Share:

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *